Sunday, February 13, 2011

कार्टून कुछ बोलता है- विदेश मंत्री की सफाई !

विदेश मंत्री कृष्णा ने संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत की बजाये पुर्तगाल के मंत्री का भाषण पढ़ा !



अरे, आलोचना करने के बजाय मेरा शुक्रिया अदा करो कि
मैंने पुर्तगाल के मंत्री का ही भाषण पढ़ा, वरना मेरे आगे टेबल पर
तो पाकिस्तान और चीन के मंत्रियों के भी भाषण पड़े हुए थे !

19 comments:

  1. इससे पता चलता है की मंत्री जी देश का पैसा बिगाड़ कर सिर्फ भाषण की ओपचारिकता पूरी करने गए थे

    ReplyDelete
  2. एक ही उल्लु काफ़ी है :)

    ReplyDelete
  3. हा हा हा
    इस देश में कुछ भी हो सकता है

    ReplyDelete
  4. युगल जी ने ठीक कहा.

    ReplyDelete
  5. हां भाई मेरी ओर से शुक्रीया ही, की पाकिस्तान और चीन का नहीं पढ़ा....इतने ही गैर जिम्मेवार है अपनी सरकार और उनके लोग..........

    ReplyDelete
  6. यूनान भी हमारी तरह सीधा साधा देश है।

    ReplyDelete
  7. चलिये ये तो पता चला कि भारत और यूनान में कितनी समानता है.

    ReplyDelete
  8. अजी यह अकल तो अपनी बेबे के पास छोड गया था,

    ReplyDelete
  9. एस.एम्.कृष्णासा : ने यूनान का नहीं पुर्तगाल का भाषण पढ़ा था.हमारे नेताओं को जल्दी बोलने की आदत होती है इसलिए बेचारे मंत्री जी जल्दी-जल्दी में पुर्तगाली भाषा बोलते हुए भी नहीं समझे की वह गलती कर रहे हैं.

    ReplyDelete
  10. गलती की तरफ ध्यान आकर्षित करने हेतु आपका आभार माथुर साहब. भूल सुधार कर दी !

    मैं भी अपने विदेश मंत्री से कुछ कम नहीं :)

    ReplyDelete
  11. सारे जहाँ से अच्छा हिंदुस्तान हमारा .....

    ReplyDelete
  12. भारत की नाक कटवाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है!

    ReplyDelete
  13. बहुत दुःख होता है ऐसी घटनाओं से..... अफसोसजनक

    ReplyDelete
  14. ये हैं हमारे देस के करणाधार :)

    ReplyDelete
  15. गोदियाल जी, पढ़ दिया ये क्या कम उपलब्धि है?

    ReplyDelete
  16. धन्य हैं "हमारे" नेताजी - वसुधैव कुटुम्बक!
    लिपि रोमन थी सो पढ पाये - देवनागरी होती तब तो रह ही जाता।

    ReplyDelete

ब्लॉगिंग दिवस !

जब मालूम हुआ तो कुछ ऐसे करवट बदली, जिंदगी उबाऊ ने, शुरू किया नश्वर में स्वर भरना, सभी ब्लॉगर बहिण, भाऊ ने,  निष्क्रिय,सक्रिय सब ...