Monday, July 4, 2011

कार्टून कुछ बोलता है -मंदिरों के खजानों में सरकारी सेंध !

14 comments:

  1. kiya baat hai ! bhai ji Mazaaa Aaa Giya ...steek:ha ha ha :-)

    ReplyDelete
  2. हाहाहाहा सटीक।

    ReplyDelete
  3. इनके भक्तों का भी उद्धार हो।

    ReplyDelete
  4. अब तो यहीं बहुत काम मिल गया है भाई ।
    स्विस बैंक तो फीके लग रहे हैं ।

    ReplyDelete
  5. बहुअयामी प्रतिभा के धनी है आप गोदियाल जी, यह कार्टून भी उसी की बानगी है.

    ReplyDelete
  6. हा हा हा ये न खुलेगा सर । इनके महंत ससुरे सब के सब एक से एक महाठग जो ठहरे

    ReplyDelete
  7. इसी प्रयास में तो लगे हैं अन्ना साहब और बाबा साहब :)

    ReplyDelete
  8. वाह .. गज़ब .. मज़ा आ गया ...

    ReplyDelete
  9. आदरणीय गोदियाल जी
    नमस्कार !
    ....सटीक आनंद आया

    ReplyDelete
  10. अस्वस्थता के कारण करीब 20 दिनों से ब्लॉगजगत से दूर था
    आप तक बहुत दिनों के बाद आ सका हूँ,

    ReplyDelete
  11. बिलकुल सटीक ... अब सरकार सभी खजाने ... मंदिरों के तहखाने तुडवा के ही दम लेगी ...

    ReplyDelete

ब्लॉगिंग दिवस !

जब मालूम हुआ तो कुछ ऐसे करवट बदली, जिंदगी उबाऊ ने, शुरू किया नश्वर में स्वर भरना, सभी ब्लॉगर बहिण, भाऊ ने,  निष्क्रिय,सक्रिय सब ...