Monday, March 11, 2013

कार्टून कुछ बोलता है -लापरवाही का आलम इधर भी है और उधर भी है !



















12 comments:

  1. सटीक-
    आभार आदरणीय-
    बहुत बढ़िया -

    ReplyDelete
  2. Ghor kalyug hai bhaya...
    ghor kalyug.!.!.!.

    ReplyDelete
  3. Workers are careless in his rein also.

    ReplyDelete
  4. यमदूत शायद भूल गया होगा कि यमलोक में भी बहन बेटियां रहती हैं?

    रामराम.

    ReplyDelete
  5. बहुत उम्दा प्रस्तुति आभार

    आज की मेरी नई रचना आपके विचारो के इंतजार में
    अर्ज सुनिये

    आप मेरे भी ब्लॉग का अनुसरण करे

    ReplyDelete
  6. पहले नीचे से निपटाना था..

    ReplyDelete
  7. वाह, ऊपरी अदालत में समय से पहले ही ।

    ReplyDelete
  8. हा हा ले आए .... सच में .. या चला गया ...

    ReplyDelete

  9. अब देखते हैं , वहां के कैदी क्या हाल करेंगे !

    ReplyDelete

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना !

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना ! (New concept of 'seating arrangement' in Metro coaches ! ) ...