आशिकी दिवस की मंगलमय कामना ।

बचाने कोई नही आता, डूबे जो नैंया मझधार मे, धोखा खाए हुए बैठा है, ये तेरा बाप भी प्यार मे, चौदह फरवरी,वैलेंटाइन तो हर साल ही आता है, इ...