Tuesday, August 16, 2011

कार्टून कुछ बोलता है-हसनअली को बेल, अन्ना को जेल !

                                                                                                  गोदियाल  
सौ जोड़ो तो हजार बनता है, हजार जोड़ो तो बनता है हजारे,
अन्ना आप ये न समझना आप अकेले हो, हम साथ है तुम्हारे !!



13 comments:

  1. बहुत ही दमदार कार्टून, बेहतरीन, समय आ ही गया है.

    रामराम.

    ReplyDelete
  2. सही बात कही आपने, मेरी टिप्पणी पोस्ट होने तक अन्ना रिहा हो जायेंगे

    ReplyDelete
  3. बहुत बढ़िया!
    आज का चर्चा मंच भी देख लें!

    ReplyDelete
  4. कार्टून कुछ बोलता है-हसनअली को बेल, अन्ना को जेल !
    km shabdon main bahut kuchh byan hota hai...

    ReplyDelete
  5. बहुत सुन्दर सटीक....

    ReplyDelete
  6. वाह बेहतरीन !!!!
    जय हो अन्ना की
    ****************

    ReplyDelete
  7. पर... आगे आगे देखिए होता है क्या?

    ReplyDelete
  8. टिप्पणी में देखिए मरे चार दोहे-
    अपना भारतवर्ष है, गाँधी जी का देश।
    सत्य-अहिंसा का यहाँ, बना रहे परिवेश।१।

    शासन में जब बढ़ गया, ज्यादा भ्रष्टाचार।
    तब अन्ना ने ले लिया, गाँधी का अवतार।२।

    गांधी टोपी देखकर, सहम गये सरदार।
    अन्ना के आगे झुकी, अभिमानी सरकार।३।

    साम-दाम औ’ दण्ड की, हुई करारी हार।
    सत्याग्रह के सामने, डाल दिये हथियार।४।

    ReplyDelete
  9. ये तो सचमें बहुत कुछ बोल रहा है ....
    सरकार को छील दिया है आपने ... वैसे वो इसी लायक हैं ...

    ReplyDelete

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना !

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना ! (New concept of 'seating arrangement' in Metro coaches ! ) ...