Tuesday, April 30, 2019

लातों के भूत।

दिनभर लडते रहे,
बेअक्ल, मैं और  मेरी तन्हाई,
बीच बचाव को,
नामुराद अक्ल भी तब आई
जब स़ांंझ ढले,
घरवाली की झाड खाई।

8 comments:

  1. ब्लॉग बुलेटिन की दिनांक 30/04/2019 की बुलेटिन, " राष्ट्रीय बीमारी का राष्ट्रीय उपचार - ब्लॉग बुलेटिन “ , में आप की पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  2. वाह ! बहुत ख़ूब आदरणीय

    ReplyDelete
  3. यही होता है

    वाह

    ReplyDelete
  4. क्या बात जी ...
    सच क्यों लिख दिया आपने ...

    ReplyDelete
  5. अति सुंदर लेख

    ReplyDelete
  6. Fed से दरें घटने की उम्मीद में बाजार ने आज अपने कारोबार की शुरूआत हरे निशान पर की है. सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ही तेजी के साथ कारोबार करते दिखाई दे रहे हैं.Fed से दरें घटने की उम्मीद के कारण ही एशियाई बाजारों में भी तेजी के साथ कारोबार होता देखा जा रहा है. https://hs.news/sensex-and-nifty-gains-on-19-july/

    ReplyDelete
  7. Nice blog.
    Whatsapp Web : WhatsApp on your Computer

    ReplyDelete

देवनगरी,"अष्टचक्रा नवद्वारा देवानां पूरयोध्या"

जन्मस्थली मुक्त हो गई, दैत्य कारावास से, श्रीराम लौटेंगे अवध, आज फिर वनवास से। दीपों से जगमगा उठे हैं, निर्मल सरयू के तट, सजने लगे फिर दोबार...