Tuesday, February 18, 2014

कार्टून कुछ बोलता है- ऑफ़ सीजन डिस्काउंड सेल !


8 comments:

  1. इत्ते सारे !...अब कहाँ बाँटे ?

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    --
    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज बुधवार (19-02-2014) को भैया भ्रष्टाचार भी, भद्रकार भरपूर; चर्चा मंच 1528 में "अद्यतन लिंक" पर भी है!
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  3. हा हा .. सटीक .. बांटेंगे अब अपने कजरी ...

    ReplyDelete
  4. हमने तो सीजन समझकर बेचने के लिये, इतने सारे छपवाये थे पर छपाई की कास्ट भी नही निकली.:)

    रामराम.

    ReplyDelete

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना !

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना ! (New concept of 'seating arrangement' in Metro coaches ! ) ...