Monday, December 31, 2012

कार्टून कुछ बोलता है- मिर्च पाउडर स्प्रे !


4 comments:

  1. प्रभावी ,
    जारी रहें,
    बधाई !!

    ReplyDelete
  2. क्या बात है ...
    नए साल की मुबारकबाद ...

    ReplyDelete
  3. संभवतः यही मार्ग शेष हो..

    ReplyDelete

लातों के भूत।

दिनभर लडते रहे, बेअक्ल, मैं और  मेरी तन्हाई, बीच बचाव को, नामुराद अक्ल भी तब आई जब स़ांंझ ढले, घरवाली की झाड खाई।