Tuesday, May 26, 2020

हकीकत


8 comments:

  1. सत्य कथन,इन्सान ने अन्य जीवों पर और सारी प्रकृति पर जो अत्याचार किये है उसी का खामियाज़ा भुगत रहा है आज.

    ReplyDelete
  2. आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 28.5.2020 को चर्चा मंच पर चर्चा - 3715 में दिया जाएगा
    धन्यवाद
    दिलबागसिंह विर्क

    ReplyDelete
  3. वाह! लाजवाब आदरणीय सर.
    सादर

    ReplyDelete
  4. बहुत खूब।
    करम गति टारे नाहि करें।

    ReplyDelete

कसमरा

मर्ज़ रिवाजों पे, कोरोना वायरसों का सख्त पहरा हैं, एकांत-ए-लॉकडाउन मे, दर्द का रिश्ता, बहुत गहरा है, थर्मोमीटर-गन से ही झलक जाती है जग की...