Monday, August 16, 2010

मर्यादा का पालन !

राजनीति में मर्यादा का भी पालन होना चाहिए : मनमोहन सिंह




एक और !!

रहम करो माई बाप !
माया-ममता का पालन करते-करते
तो हम सड़क पर आ गए और आप है
कि.......!!!!

छवि गुगुल से साभार

25 comments:

  1. हा हा हा बहुत बढिया गोदियाल जी।

    ReplyDelete
  2. हा हा हा………………सही कहा।

    ReplyDelete
  3. bahut badhiya godial sahab
    main fir se aa gya hun.

    ReplyDelete
  4. bahut badhiya godial sahab
    main fir se aa gya hun.

    ReplyDelete
  5. जो मर्यादा का पालन नहीं कर रहे हैं, उनके आगे तो वो हाथ जोड़े खड़े हैं :)

    ReplyDelete
  6. बहुत खूब ।

    ReplyDelete
  7. chote se alfaazo men itnaa bdhaa flsfaa vaah bhyi vaah. akhtar khan akela kota rajsthan

    ReplyDelete
  8. http://taarkeshwargiri.blogspot.com/2010/08/blog-post_13.html

    Please read

    apne ne to pura Chakka mar diya hai , Aur bol sidhe ITLI ja giri hai..... ha ha ha ha ha ha ha ha ha ha ha haha

    ReplyDelete
  9. आपका लेखन अच्छा है

    ReplyDelete
  10. आजादी का इससे अच्छा क्या होगा उपहार!

    ReplyDelete
  11. अब तक का सबसे छोटा व्यंग्य!!

    ReplyDelete
  12. बहुत खूब गोदियाल जी।

    ReplyDelete
  13. हा हा हा बहुत बढिया

    ReplyDelete
  14. शुक्र है आपको भी सिर्फ़ दो नाम... माया-ममता ही याद रहे...वर्ना शारिरिक स्थिति के साथ साथ मानसिक सन्तुलन भी बिगड जाता.. ही ही

    ReplyDelete

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना !

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना ! (New concept of 'seating arrangement' in Metro coaches ! ) ...