Friday, December 7, 2012

चित्र-विचार !

आज आपसे अनुरोध करूंगा कि इस तनिक संशोधित चित्र पर नजर डालिए और विचारिये !










छवि एक्सप्रेस ट्रिब्यून से साभार !



5 comments:

  1. सच्चाई बयाँ करता चित्र

    मेरी नयी पोस्ट पर आपका स्वागत है
    http://rohitasghorela.blogspot.in/2012/12/blog-post.html

    ReplyDelete
  2. अभी बहुत वक्त लगेगा.

    ReplyDelete
  3. हम तो खड़े खड़े पूर्ण आनन्द ले रहे हैं

    ReplyDelete

दिल्ली/एनसीआर, क्या चिकित्सा मर्ज का मूल मेदांता सरीखे अस्पताल नहीं ?

  चूँकि दिल्ली के मैक्स और हरियाणा  के  फोर्टिस अस्पताल का मुद्दा गरम है, इसलिए इस प्रसंग को उठाना जायज समझता हूँ। पिछले कुछ दशकों से अधिक...