Sunday, December 9, 2012

कार्टून कुछ बोलता है- राज को राज रहने दो !


8 comments:

  1. क्या बात है सर जी ...
    वैसे जस्टिस साहब भी अपने आप में एक चीज़ हैं ...

    ReplyDelete
  2. शायद इन महोदय को बदजुबानी का रोग लग चूका है फिर भी आपका कार्टून अच्छा है !

    ReplyDelete
  3. घूम-घूमकर देखिए, अपना चर्चा मंच
    । लिंक आपका है यहीं, कोई नहीं प्रपंच।।
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा आज सोमवार के चर्चा मंच पर भी है!
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete
  4. अविश्वास का प्रश्न कहाँ टिकता है?

    ReplyDelete
  5. Judge sahb paglaa gaye lagte h ..

    fir bhi nice cartoon .. ;D

    ReplyDelete

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना !

मैट्रो के डिब्बों में 'आसन व्यवस्था' की नई परिकल्पना ! (New concept of 'seating arrangement' in Metro coaches ! ) ...